स्टार्ट-अप के लिए निधियों की निधि

16 जनवरी, 2016 को माननीय प्रधानमंत्री ने स्टार्ट-अप इंडिया की कार्ययोजना का अनावरण किया। इस कार्ययोजना के अनुसरण में मंत्रिमंडल ने सिडबी में 10,000 करोड़ रुपये की समूह-निधि वाली “स्टार्ट-अप हेतु निधियों की निधि” की स्थापना के लिए मंज़ूरी प्रदान की, ताकि विभिन्न वैकल्पिक निवेश निधियों (एआईएफ़) में अंशदान किया जा सके। इस निधियों की निधि की स्थापना नवोन्मेषिता से प्रेरित उद्यमों के विकास एवं उनकी संवृद्धि में सहायता करने के मूल उद्देश्य से की गई। यह निधि सेबी में पंजीकृत उद्यम निधियों में पूँजीगत प्रतिभागिता के माध्यम से स्टार्ट-अप की निधि संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति सुगम बनाती है।

महत्वपूर्ण संपर्क-सूत्र: