आईसार्क

इण्डिया एमएसई एसेट रीकंस्ट्रशन कंपनी लिमिटेड की स्थापना सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ मिलकर सिडबी द्वारा 11 अप्रैल 2008 को देश की प्रथम एसेट रीकंस्ट्रशन कंपनी के रूप में की गई । इसका व्यावसायिक परिचालन 15 अप्रैल 2009 को प्रारम्भ हुआ । इसका मुख्य उद्देश्य था मुख्यतः एमएसई क्षेत्र में गैर निष्पादक आस्तियों का अभिग्रहण करना जिसके माध्यम से व्यवहार्य अर्थक्षम इकाइयों की पुनर्संरचना के कार्य को गति प्रदान करना एवं अक्षम इकाइयों का परिसमापन करना ताकि आस्तियों का अधिकतम उत्पादक उपयोग किया जा सके ।

आइसार्क के पास यथा 31 मार्च, 2018 तक रु 430.55 करोड़ की प्रबंधन-अधीन आस्तियां (एयूएम) थीं।

अधिक जानकारी के लिए कृपया https://www.isarc.in पर जाएँ