"इसमें मुझे कोई संदेह नहीं कि अगर हम लघु उद्योगों की मदद करते हैं तो राष्ट्रीय सम्पदा को समृद्ध करते हैं।  मुझे इसमें भी कोई संदेह नहीं है कि सच्चे स्वदेशी इन गृह-उद्योगों को प्रोत्साहित और पुनर्जीवित करते हैं। यह लोगों की रचनात्मकता और साधनसंपन्नता को दर्शाने का एक जरिया भी है। यह देश में सैकड़ों युवाओं को जिन्हें रोजगार की जरूरत है, रोजगार प्रदान कर सकता है। इससे वर्तमान में व्यर्थ होने वाली सभी ऊर्जा को एक नई दिशा दी जा सकती है।"
- महात्मा गांधी
"I have no doubt in my mind that we add to the national wealth if we help the small-scale industries. I have no doubt also that true Swadeshi consists in encouraging and reviving these home industries. It also provides an outlet for the creative faculties and resourcefulness of the  people. It can also usefully employ hundreds of youths in the country who are in need of employment. It may harness all the energy that at present runs to waste."
- Mahatma Gandhi

Skip to main website