head-banner

पीएसआईजी के बारे में

sidbi_logo
UKAID
 

 

सिडबी पीएसआईजी का कार्यान्वयन कर रहा है। इसे यूकेएड ने डिपार्टमेंट फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (डीएफआईडी) यूके के माध्यम से क्रियान्वित किया है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि निम्न आय वाले राज्यों के गरीब और कमज़ोर लोग (खासकर महिलाएँ) वित्तीय सेवाओं तक पहुँच सकें और उससे आई आर्थिक संवृद्धि का लाभ ले सकें। यह परियोजना सुनिश्चित करेगी कि 1.2 करोड़ परिवारों तक वित्तीय सेवाएँ पहुँचाई जा सकें और 50 लाख से अधिक महिला-ग्राहकों के सामाजिक स्तर में सुधार हो और वे प्रगति कर सकें।

अपेक्षा की जाती है कि पीएसआईजी में निजी क्षेत्र के वित्तीय व तकनीकी संसाधनों का दोहन करते हुए 4 राज्यों- उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार और ओड़िशा के लगभग 1.2 करोड़ ऐसे कार्यक्रम-प्रतिभागियों से जुड़ा जाएगा, जो इससे प्रत्यक्ष या परोक्षतः संबद्ध हैं। इस कार्यक्रम की अवधि 6 वर्ष यानी अप्रैल 2012 से मार्च 2018 तक है, जिसे 1 वर्ष के लिए यानी मार्च 2019 तक बढ़ाया जा सकता है।